#Kavita by Kashan Iqbal Pahlwan

मुहब्बत काँच का सौदा.. मुहब्बत आग का दरिया..   मुहब्बत जून जैसी है.. मुहब्बत बर्फ का गोला..   मुहब्बत रात काली है.. मुहब्बत नीला मौसम

Share This
Read more