#Kavita by Madhu Mugdha

रिश्तों के कैनवास पर दरकती हुयी तश्बीर इस कदर तन्हा कि लगता ही नहीं इन्हीं रिश्तों के दरार पर बैठकर

Share This
Read more

#Kavita by Vivek Prajaati

  एक कुंडलिया का प्रयास-   बजरंगी  हनुमान  हैं भक्तों  के सम्राट। संकट कितना भी प्रबल देते पल में काट।।

Share This
Read more