#Kavita by Sudha Mishra

सुनो हुक्मरानों सुनो…   सुनो हुक्मरानों सुनो  आँख से परदा उठाओ अपनी-अपनी गद्दी से उतरकर बताओ क्या खूब बेटी बचा

Read more

#Lekh by Brijmohan Swami

बृजमोहन ‘बैरागी’ का चिंतन —————————————— एक यतार्थ आलोचना – प्रवीण चारण बृजमोहन स्वामी ‘बैरागी’ (जन्म 1 जुलाई सन् 1995) ,

Read more
Whatspp dwara kavita bhejne ke liye yahan click karein.