#Muktak by Mithilesh Rai Mahadev

मेरी नजर के सामने साकी रहने दो! हाथों में अभी जाम को बाकी रहने दो! धधक रही हैं तस्वीरें यादों की दिल में, अश्कों में अभी दर्द की झांकी रहने दो!

Share This
"#Muktak by Mithilesh Rai Mahadev"

#Muktak by Annang Pal Singh Bhadouria

मानव को जीवित रखे , शक्ति श्रेष्ठ विश्वास ! अगर हिला विश्वास तो, छूटे जीवन आश. !! छूटे जीवन आश , अंत जीवन का मानो ! श्रेष्ठ शक्ति विश्वास सजाकर. रखो सुजानो !! कह ंअनंग ंकरजोरि,यही लोगों के अनुभव ! है विश्वास शक्ति ही जिससे जीवित. मानव. !! ** जो जो चीजें मिलाकर , विधि ने रचा मनुष्य ! उन्हें हटा दो अगर तो, वह मिट जाय अवश्य !! वह मिट जाय अवश्य , श्रेष्ठ…

Share This
"#Muktak by Annang Pal Singh Bhadouria"