#Kavita by Binod Kumar

विधा:-वीर/अल्हा छंद  -शिल्प:-१६,१५ चरणान्त गाल/२१ —– बार बार मेधा घोटाला, सही नहीं हो काँपी जाँच। होता अपना राज्य कलंकित, सदा

Share This
Read more

#Lekh by sameer shahi

आंदोलन अपने आस पास देखें, हर जगह कोई ना कोई आंदोलन चल रहा है. जाट आंदोलन, किसान आंदोलन, पटेल आंदोलन

Share This
Read more

#Muktak by Annang Pal Singh

प्रसन्नता की शत्रु हैं , इच्छायें अतिरिक्त. ! कम से कम यदि कामना,तो जन प्रेमासिक्त !! तो जन प्रेमासिक्त, कामनायें

Share This
Read more