#Geet Sandeep Saras

एकहृदयसेजुड़ागीत राघवमेरीपीड़ासुनलो राघव मेरी पीड़ा सुन लो, लंकेश आपके सम्मुख हूं। विजयादशमी में मुझ को ही दोषी ठहराना ठीक नहीं।

Read more