#Bal geet By Ramesh Raj

बालगीत
|| हम बच्चे नादान नहीं हैं ||
……………………………..
आफत में मुस्काना सीखे
अपने वचन निभाना सीखे।

नफरत के हम गीत न गाते
सबसे प्यार जताना सीखे।

वैर-द्वेष की-भेदभाव की
हर दीवार गिराना सीखे।

हम सुखदेव, राजगुरु जैसे
फाँसी पर मुस्काना सीखे।

हम भागीरथ है इस युग के
भू पर गंगा लाना सीखे।

हम बच्चे नादान नहीं हैं
ज्ञान-प्रकाश बढ़ाना सीखे।
+रमेशराज
……………………………………………………….
-रमेशराज, 15/109, ईसानगर, अलीगढ़-202001
मो.-9634551630

Leave a Reply

Your email address will not be published.