#Kavita by Acharya Amit

तुम बहुत इश्तेहार लगाते हो हर गली-मोहल्ले नुक्कड़-चौराहों पर आज हमने भी तुम्हारा एक इश्तेहार पढ़ा है किसी की खूबसूरत

Read more

#Kavita by Dinesh Pratap Singh

बलात्कार की निरंतर घटनाओं पर एक त्वरित टिप्पणी ——————————————————————– नारी पूजन में ,देवों का वास, जो देश बताता था धरती

Read more
Whatspp dwara kavita bhejne ke liye yahan click karein.