#Muktak by Annang Pal Singh

ज्यादा सोचो ,सुनो पर , कम  वोलो संसार  । सुना,पढ़ा,सोचा हुआ,लिखो सजाय विचार ।। लिखो सजाय विचार,बाँटिये अपना अनुभव ।

Read more

#Muktak by Binod Kumar

हास्य कुण्डलियाँ करनी ओछा कर लिया,पतिदेव बोल भैंस। पत्नी क्रोधित हो गई,लगी जताने तैस। लगी जताने तैस,मामला सारा बिगड़ा। खाना

Read more

#Muktak by Vijay Narayan Agrwal

दोहा:– हिय हुलास परमात्मा,देता आतम ज्ञान। वैसे  जैसे  प्रेम  में,छिपा हुआ कल्यान।।   मुक्तक:– स्वयं को पहचान लेने से, बड़ा

Read more