#Gazal by Rajinder Sharma Raina

तू चाहे मुझ से प्यार न कर,

इस कदर दिल पे वार न कर।

है बड़ा नाज़ुक ताव न दे,

टूटता दिल तकरार न कर।

अब हमें सहने दर्द तेरे,

बख़्श हिम्मत इन्कार न कर।

आज फिर मन को चैन नहीं,

तू बेसबरी से इंतजार न कर।

हम करें है हर हाल यकीं,

तू चाहे तो एतबार न कर।

काश रैना ये ध्यान करें,

चल संभल के हद पार न कर।रैना

Leave a Reply

Your email address will not be published.