#Geet by P K Hathrasi

गीत

 

ऐसे ना देखो ऐ   सनम

हम दिवाने   हो   रहे   हैं

पलकें जरा झपका लो

हम   इनमें   खो   रहे हैं

ऐसे ना देखो……………

 

जब से दिखे हो सनम

टूटे हैं हमारे सब भरम

सच कहूं तुम्हारी कसम

हम   मस्ताने हो रहे हैं

ऐसे ना देखो………….

 

ऐसे   हुआ हुश्न-ऐ-असर

तुमको कहा जाने जिगर

तुम बनो अब हमसफर

सब अनजाने हो रहे हैं

ऐसे ना देखो…………..

 

कुछ तो कहो मेरी गजल

ऐसे ना बनो तुम हजल

यहां सब तराने हो रहे हैं

अपने फसाने हो रहे हैं

ऐसे ना देखो…………..

 

ऐसे ना देखो ऐ सनम

हम दिवाने हो रहे   हैं

इं.पी.के. हाथरसी7417427535हाथरस (उ.प्र.)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.