#Geet By Surendra Agnihotri

चमन में फूल मुस्कुराए
मेरी तमन्ना है
आंख न भर किसी केआए
मेरी तमन्ना है
सदाबहार रहे लदी रहे फल से
तृषा बुझा सभी की जल से
हरी भरी रहे ये धरती
मेरी तमन्ना है
न कोई भूख से हो व्याकुल
न तन बीमार रहे
न फांके हो किसी को
न लाचार रहे
खुशी से आंचल भरा रहे
मेरी तमन्ना है

Leave a Reply

Your email address will not be published.