#Kavita by Anantram Chaubey

जब से

जब से
उनसे
आँख
लड़ी है ।
ये जान
मुश्किल
में पड़ी है ।
हर पल
दिल में
बैचेनी सी
रहती है ।
दिल की
धड़कन
कभी घटती
कभी बढती है ।
कभी खुशी
कभी गम की
आशा निराशा
झलकती है ।
ये कैसी
मुश्किल घड़ी है ।
जब से उनसे
आँख लड़ी है ।
पल पल ये
जान को देखो
कैसी मुश्किल
में ये पड़ी है ।
लगता उनसे
प्यार हुआ है
जब से ये
दीदार हुआ है ।
अनन्तराम चौबे
अनन्त
जबलपुर म प्र

Leave a Reply

Your email address will not be published.