#Kavita by Anantram Chaubey

अच्छाई बुराई

**

अच्छाई बुराई

जीवन की सच्ची

कडुवी सच्चाई ।

जीवन की परछाई।

जीवन मृत्यु के बीच

इन्सान के जीवन

की गाड़ी चलती है ।

अच्छाई बुराई ।

जीवन की गाड़ी के

दो पहियो की

एक तरह साथ मे

मिलकर चलते है ।

जहाँ अच्छाई है

वहाँ भी बुराई है ।

इन्सान कम बोले

बहुत अच्छा है ।

फिर कहने वाले

उसको भी अकडू

कहकर बुरा भला

बना देते है  ।

ज्यादा बोले तब भी

बड़बोला कहकर

बुरा बना देते  ।

यही तो जीवन

के दो पहलू है ।

जो अच्छाई बुराई

से जुड़े होते है ।

जीवन मृत्यु की

तरह अच्छाई बुराई

की जुड़ी होती है

हर दम हमेशा

साथ मे होती है ।

कही छुपकर

कही दिखाई देती है ।

अनन्तराम चौबे

* अनन्त *

जबलपुर म प्र

9770499027

 

28 Total Views 3 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Whatspp dwara kavita bhejne ke liye yahan click karein.