#Kavita by Anantram Chaubey

उम्मीद से

 

उम्मीद से

आसमान टिका है

ये सभी जानते है ।

सफलता की हर

सीढी उम्मीद के

सहारे चढते है ।

कामयावी मिलती है

मंजिल भी पाते है ।

हार जीत जीवन मे

होती रहती है ।

फिर भी हार के बाद

भी जीत की उम्मीद

हमेशा कायम रहती है ।

बीमारी कोई भी हो

ठीक होने की उम्मीद से

डाक्टर के पास जाते है ।

हजारो लाखो रूपया

भी इसमे खर्च करते है ।

ज्यादातर मरीज ठीक

भी  हो जाते है ।

कुछ असफल होते है ।

डाक्टर भी पूरी कोशिश

के बाद नाकाम होते है

हिम्मत हार जाते है ।

बस एक आखिरी ईश्वर

की उम्मीद पर रह जाते है ।

डाक्टर भी ईश्वर की

आखिरी उम्मीद के

भरोसे रह जाते है ।

भगवान की पूजा भजन

प्रार्थना ही काम आती है ।

उम्मीद की एक नई

किरण दिखाई देती है ।

न उम्मीद भी जब

उम्मीद मे बदल जाती है ।

मरीज के अर्धचेतन शरीर मे

जब हरकत शुरू हो जाती है ।

सभी के चेहरो पर मुस्कान

हंसी खुशी नजर आती है ।

बस उम्मीद के सहारे एक

नई जिन्दगी मिल जाती है ।

उम्मीद हमेशा कायम रहती है ।

अनन्तराम चौबे

* अनन्त *

जबलपुर म प्र

9770499027

Leave a Reply

Your email address will not be published.