Kavita by Anantram Chaubey

माँ की ममता प्यार दुलार

 

माँ की ममता प्यार दुलार

किस्मत से ही मिलता है

माँ की कोख मे पलता

बच्चा सही सुरक्षित होता है ।

दोष लगाने वाले तो

कुछ भी दोष लगाते है ।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ

का नारा देकर हो हल्ला

शोर मचाते रहते है ।

माँ और बेटी दोनो पर

क्यो शक करते रहते है ।

बेटो से ज्यादा बेटियाँ  ने

अपना नाम कमाया है ।

पूरे विश्व मे बेटियो ने

पढ लिखकर ही अपना

परचम दिखलाया है ।

माँ बहिन और बेटियों ने

ये सब करके बतलाया है ।

माँ की कोख मे सुरक्षित है

बेटी है या बेटा है ।

माँ की बस संतान है ।

जिस माँ की कोख

पर शक करते हो ।

क्या स्वमं ही ऐसा करते हो  ।

बहिन और बेटी जो थी

वही तो माँ हम सबकी है ।

माँ की ममता प्यार दुलार

की  बेटी तो हम सबकी है ।

लिखने वालो से है निवेदन

क्या आपकी बेटी अनपढ है

या कोई माँ बहिन बताओ

जिसकी कोख मे बेटी

ऐेसी वेमौत मारी गई है ।

जीवन मृत्यु अटल सत्य है

जो ईश्वर के हाथ मे रहता है ।

इसको कोई बदल नही सकता

एक पल भी समय नही टलता है ।

माँ की ममता प्यार दुलार तो

संतान को जीवन भर मिलता है ।

अनन्तराम चौबे

*अनन्त *

Leave a Reply

Your email address will not be published.