#Kavita by Shambhu Nath

पहली ही मुलाकात में ///
हाथ वे बढाने लगे ///
शर्म से मै झुक गयी ///
वे सीटिया बजाने लगे///
अहिस्ता से कानो में ///
कुछ प्रेम शब्द बोले थे///
मुझको हुआ अचम्भा ///
जब दिल को मेरे तोले थे///
आँखे क्या मचली वे //
कलियों को सहलाने लगे///
पहली ही मुलाकात में ///
हाथ वे बढाने लगे ///
शर्म से मै झुक गयी ///
वे सीटिया बजाने लगे//

Leave a Reply

Your email address will not be published.