#Kavita by Dinesh Pratap Singh Chauhan

राजनीति में बदजुबांनी पर भीषण तकरार

जानवरों ने क्रोध में कर डाली हड़ताल

कर डाली हड़ताल हमें ना बीच में डालें

अपने झगड़ों में न हमारा नाम उछालें

नेताओं से तुलना, है तौहीन हमारी

हम झगड़ों में खुद ,नेता की देते गाली

“दिनेश प्रताप सिंह चौहान”

Leave a Reply

Your email address will not be published.