#Kavita by S B S Yadvesh

” तर्क ” पर मेरी एक वैज्ञानिक कविता

 

तर्क  तर्क  तर्क …..

तर्क से हुए  विज्ञान के रिसर्च

तर्क ने जने  कंप्यूटर बम विमान

तर्क तर्क तर्क ……

 

तर्क के ही शर्त पर खुलते बंद गेट

तर्क के वितर्क से सामर्थ्य में है वृद्धि

तर्क तर्क तर्क …..

 

तर्क खोजते रहे हैं सत्य के रहस्य

तर्क से बचा हुआ है आदमी वर्चस्व

गणतंत्र न्यायतंत्र में है तर्क का महत्व

तर्क तर्क तर्क ……

 

तर्क से डरे हुए हैं चोर बेईमान

तर्क ने बुझा दिये अंधविश्वास के चिराग

तर्क तर्क तर्क …….

 

तर्क ने सृजित किये हैं  ज्ञानवी विचार

विचार से ही बन रहा है आदमी महान

आधुनिक का हो रहा है तर्क से कल्याण

यादवेश कर रहें हैं तर्क से विकास

तर्क  तर्क तर्क ……

 

यादवेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.