#Kavita by Shambhu Nath

पात्र बेचारे भूखे सोते है
अपात्र डकारे लेते है ॥
अपने सारे हितैषी को ॥
प्रधान भी सुविधा देते है ॥
जांच करा के देख सकते हो ॥
हर गाँव में पाये जायेगे ॥
गरीबी रेखा के नीचे यूं  ॥
बहुत लोग नहीं आयेगे ॥
बी पी एल कार्ड बना है उनका ॥
साहब के वही चहेते है ॥
अपने सारे हितैषी को ॥
प्रधान भी सुविधा देते है ॥
हाफ सेंचुरी पार नहीं है ॥
मिलती बृद्धा पेंशन है ॥
जो लोग ६० के होये गये ॥
उनको दवा की टेंशन है ॥
भ्रष्टाचार खूब पनप रहा है ॥
सच्चाई को सब मेटे है ॥
अपने सारे हितैषी को ॥
प्रधान भी सुविधा देते है ॥
199 Total Views 6 Views Today
Share This

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *