#Kavita by Shambhu Nath Sharma Dardi

गुरुनानक,गौतम,गाँधी के त्याग का ,

है बलिदानी के खून का भारत |

कृष्ण के कर्म की भूमि यहीं पर ,

रास रचा था हुआ महाभारत |

शमशान की राख बताती यही कि ,

हुमायूँ की राखी का मान है भारत |

कुर्सी के लिए मत बांटे इसे ,

“दरदी” मन का अरमान है भारत |

 

 

कवि- शम्भू नाथ शर्मा “दरदी”

ग्राम- भीषमपुर ,चकिया ,चन्दौली u.p.

 

 

One thought on “#Kavita by Shambhu Nath Sharma Dardi

  • June 17, 2018 at 4:47 am
    Permalink

    बहुत सुंदर कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published.