#Kavita by Sureh Tiwari (Sainik)

एक तरफ चीन.. एक तरफ चोटी.

1….

 

चोटी कटवा का बढा, गली गली में आँच…!!

नेता जी ने माँग की, सी. बी. आई जाँच….!!

सी. बी. आई जाँच, बिठा कर तह में जाओ…!!

लगे पाक का हाथ, सत्र संसद बुलवाओ …!!

कह सैनिक कविराय, चाँद पर टाँग लंगोटी …

मुवा वही विग्यान..  धरा पे काटे चोटी..  !!

 

2…

 

जिनकी आँख नहीं खुलती है,

वो भी आँख तरेर आ रहे….!!

 

फेंक तथागत के चोले को,

अँगुलिमाल मुँह फेर आ रहे…!!

 

लचर सियासत वोट बैंक की,

किस मुकाम तक ले आयी है …!!

 

आमों की बगिया कब्जाने,

झरबैले औ बेर आ रहे….!!

 

 

सुरेश सैनिक……     !!!!! 9236717074

Leave a Reply

Your email address will not be published.