#Muktak by Annang Pal Singh

जीता है इंसान जो, जीवन  को  भरपूर  !

नहीं मौत से वह डरे ,निज मस्ती में चूर !!

निज मस्ती में चूर,प्रसन्न रहे हर अवसर  !

एसा जन निश्चिंत,जिये ना जग डर डरकर !!

कह “अनंग “करजोरि,दर्द औरों का पीता  !

सबको सुख पहुँचाय,सुखी जीवन वह जीता !!

**

सही समय पर सही से  करो सही ही काम  !

नुस्खा है यह सफलतम,देता शुभ परिणाम !!

देता शुभ परिणाम , काम सब करो सही से !

बनता व्यक्ति महान,सफलता मिले यहीं से !!

कह “अनंग “करजोरि,न छोड़ो कोई अवसर !

रहिये सजग,सतर्क, काम हो सही समय पर !!

अनंग पाल सिंह भदौरिया” अनंग”

 

245 Total Views 3 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Whatspp dwara kavita bhejne ke liye yahan click karein.