muktak by Rahul Shivay

राजनीति के इस दलदल में बचा किसी का मान नहीं |
अब सरकार चलाऐंगे वो जिनको अक्षरज्ञान नहीं |
भ्रष्टों का सम्मान कर रहे जो थे लडे बुराई से,
सत्य की जीत जहां होती हो, अब वो हिंदुस्तान नहीं |

Leave a Reply

Your email address will not be published.