#Muktak by Dinesh Pratap Singh Chauhan

“महाकवि नीरज को भावभीनी श्रद्धाँजलि”
””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””””
भारत में, गीतों का,….. राजकुमार चला गया,
ग़ज़लों की कोमलता का,.. सुकुमार, चला गया,
लूट ले गया,.. . साहित्यिक मंचों की हर रंगीनी,
हर साहित्यिक प्रेमी को दे,दर्द हज़ार,चला गया।
“दिनेश प्रताप सिंह चौहान”

Leave a Reply

Your email address will not be published.