#Muktak by Jasveer Singh Haldhar

योग शक्ति

——————————

1

वेदों ने हमको दिये ,जीवन के आयाम ।

तन मन दोनों साधते ,योग और व्यायाम ।।

2

मानस के तन में छिपा ,शक्ति पुन्ज भण्डार ।

कुण्डलनी के नाम से ,जाने सब संसार ।।

3

मानस है ब्रह्मांड का ,ऐक् सूक्ष्म प्रतिरूप ।

सब कुछ इसमें चल रहा , छाँव कही औ धूप ।।

4

सात मंजिला महल है,मैया का दरवार ।

पहला मूलाधार है ,मोक्ष सातवां द्वार ।।

5

मनुज कंठ में निहित है ,वीणा पानी धाम ।

छंदों का भंडार है ,वसुधा इसका नाम ।। हलधर -9897346173

137 Total Views 3 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Whatspp dwara kavita bhejne ke liye yahan click karein.