#Muktak by Saurabh Dubey Sahil

~  मुक्तक  ~

 

दुनिया में आपको आपसे बेहतर,

केवल वही समझ सकता है ,

जो आपके मुस्कुराते हुए चेहरे के,

पीछे का दर्द समझ सकता है ।

 

~  सौरभ दुबे  ” साहिल “

206 Total Views 3 Views Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *