#Tewari by Ramesh Raj

मुक्तक विन्यास में तेवरी ||

इसमें ही आज भला लड़की
मत दहशत में तू आ लड़की,
ये गिद्ध न ऐसे मानेंगे
बन फूल नहीं, शोला लड़की |

खल सम्मुख अगर खड़ा लड़की
इतना भी मत घबरा लड़की,
पापी की नीयत ठीक नहीं ?
अब बन जा तू दुर्गा लड़की |

मत चीख-पुकार मचा लड़की
पत्थर ही हाथ उठा लड़की,
झांसी की रानी जैसी हूँ
तू अब की बार बता लड़की |
+रमेशराज

Leave a Reply

Your email address will not be published.